Press Release Hindi

प्रेस विज्ञप्ति

स्वदेशी जागरण मंच का बारहवां राष्ट्रीय सम्मेलन दिनांक 25-27 दिसंबर 2015 को जोधपुर में होने जा रहा है। यह सम्मेलन ऐसे समय में हो रहा है जब भारत का निर्यात पिछले 12 महीने से लगातार घट रहा है, समूची दुनिया में मंदी, जलवायु, बेरोजगारी जैसे संकट मुहं बाए हुए खडे है। कोई रास्ता नहीं सूझ रहा है।

घोषणा पत्र
स्वदेशी संगम
इन्दिरा गाँधी पंचायती राज संस्थान, जयपुर, राजस्थान

दिनांक: 12 अक्टूबर 2014

केंद्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्रालय के अंतर्गत जैव प्रौद्योगिकी अनुमोदन समिति द्वारा जी.एम. खाद्य फसलों के खुले परीक्षण की अनुमति दिए जाने के फैसले की खबर स्वदेशी जागरण मंच के लिए अतयंत अविश्वसनीय एवं पीड़ादायक है। गौरतलब है कि जैव प्रौद्योगिकी अनुमोदन समिति द्वारा दिनांक 18 जुलाई 2014 को चावल, चना, गन्ना, बैंगन, सरसों समेत कई खाद्य फसलों के खुले परीक्षण की अनुमति प्रदान की गई है।

दीनदयाल शोध संस्थान में ‘बजट-पूर्व परिचर्चा’ के अवसर पर प्रेस को जारी

भोपाल। स्वदेशी जागरण मंच भोपाल के कार्यकर्ताओं द्वारा एफडीआइ का पुतला दहन कर केंद्र सरकार के प्रति आक्रोश व्यक्त किया। आज प्रातः 10 बजे स्वदेशी जागरण मंच के विभाग संयोजक अरुषेन्द्र शर्मा के नेतृत्व में कार्यकर्ता बोर्ड आफिस चैराहा पर एकत्र हुए। यहां से विरोध करते हुए वहीं पर पुतला दहन किया। इस मौके पर विभाग संयोजक अरुषेन्द्र शर्मा नें कहा कि एफडीआई एक ऐसा विषैला डंक है जिस के लागू होने से भारत में खुदरा व्यापारी और किसान मरणासन्न हो जाएगा।

23 August 2012

हम सब जानते ही है कि भारत गांवों का देश है। कृषि के बिना गांव की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। पिछले कुछ समय से यह स्पष्ट दिखाई पड़ने लगा है कि कृषि घोर संकट में है। किसान या तो संघर्ष कर रहा है, या गांव तथा खेती छोड़ रहा है, या फिर आत्महत्या कर रहा है।