एफडीआई के विरोध में किया पुतला दहन

भोपाल। स्वदेशी जागरण मंच भोपाल के कार्यकर्ताओं द्वारा एफडीआइ का पुतला दहन कर केंद्र सरकार के प्रति आक्रोश व्यक्त किया। आज प्रातः 10 बजे स्वदेशी जागरण मंच के विभाग संयोजक अरुषेन्द्र शर्मा के नेतृत्व में कार्यकर्ता बोर्ड आफिस चैराहा पर एकत्र हुए। यहां से विरोध करते हुए वहीं पर पुतला दहन किया। इस मौके पर विभाग संयोजक अरुषेन्द्र शर्मा नें कहा कि एफडीआई एक ऐसा विषैला डंक है जिस के लागू होने से भारत में खुदरा व्यापारी और किसान मरणासन्न हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि खुदरा व्यापार में एफडीआई से देश के साढ़े चार करोड़ खुदरा व्यापारियों के रोजगार पर संकट खड़ा हो जायेगा और उनसे जुड़े परिवारों के पचीस करोड़ा लोगों के सामने भुखमरी का संकट पैदा हो जायेगा किसानों को भी दीर्घकाल में नुकसान होगा। जिस एफडीआई की केंद्र सरकार हिमायती है, उसे इंग्लैंड, अमेरिका जैसे राष्ट्रों ने नकार दिया है। इन देशों ने भी इसके लागू होने से व्यापार ठप होने की बात कही है। स्वदेशी जागरण मंच ने मांग की कि केंद्र सरकार तत्काल एफडीआई को वापस ले। भारतीय व्यापारियों और किसानों को नष्ट होने से बचाए।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार विदेशी निवेश को लेकर विदेशियों के हाथों बिक चुकी है। इसे भारतीय खुदरा व्यापारी और किसान कतई बर्दाश्त नहीं करेगा। इस दौरान दीपक पोरवाल , राजेंद्र शुक्ल, गणेश दुबे, डॉ वी.एम. ठाकुर, आर. के. मिश्र, अभिषेक तिवारी, अजित दुबे, गणेश सिंह, मनीष राजपूत, और बड़ी संख्या में स्वदेशी जागरण मंच के कार्यकर्ता मौजूद रहे।

अरुषेन्द्र शर्मा
विभाग संयोजक
स्वदेशी जागरण मंच भोपाल