011 2618 4595

बजट पूर्व चर्चा 

Admin February 24, 2021

स्वदेशी जागरण मंच द्वारा “बजट पूर्व चर्चा” हरियाणा भवन, मंडी हाउस, नई दिल्ली में 18 जनवरी 2021 को आयोजित की गई। इस चर्चा में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के दिल्ली प्रांत के सहकार्यवाह चार्टर्ड एकाउंटेंट श्री अनिल गुप्ता ने बजट को सामान्य शब्दों में परिभाषित करते हुए बताया कि राष्ट्रीय बजट देष के प्रत्येक व्यक्ति को प्रभावित करता है। इस साल देश के समक्ष- जीडीपी में गिरावट, रोजगार में कमी, लॉकडाउन जैसे कई बड़े संकट कोविड-19 के कारण खड़े हैं, जिनसे सम्पूर्ण देष व सरकार डटकर लड़ रही है तथा कई नये आयाम देष के समक्ष आयें है। इसी दौर से हमारे समक्ष “आत्मनिर्भरता” का नार भी आया है। अतः इस साल का बजट अत्यधिक महत्वपूर्ण तथा कुछ अलग होने की उम्मीद है। 

मुख्य वक्ता डॉ. अश्विनी महाजन (राष्ट्रीय सहसंयोजक, स्वदेशी जागरण मंच) ने कहा कि वर्तमान में सरकार के समक्ष सबसे बडा यक्ष प्रष्न है कि उन्होंने जो पहले 1 लाख करोड़ के कर राजस्व (रवेन्यू) की योजना बनाई थी, उसे वह कैसे पूरा करेगी तथा राज्य सरकारों को कैसे 14 प्रतिषत बढ़ोत्तरी के साथ राजस्व उपलब्ध करायेगी? उन्होंने आगे कहा कि सरकार को आयात शुल्कों को बढ़ाना होगा, जिससे देष के उद्योग जगत को बढ़ावा मिलेगा। पूर्व वित्तमंत्री श्री अरूण जेटली जी ने भी कहा था कि “मैं अपने देष के उद्योग जगत को बचाने के लिए आयात शुल्क को बढ़ा रहा हूँ।“

कार्यक्रम में श्री विनोद जौहरी (पूर्व आयकर विभाग, एडिशनल कमिशनर), डॉ जयप्रकाश दुबे (निदेशक, दिल्ली स्कूल ऑफ़ जर्नलिज़्म,दिल्ली विश्वविद्यालय), डॉ वीरेंद्र कुमार विजय (राष्ट्रीय समन्वयक, उन्नत भारत अभियान, आईआरईडीए चेयर प्रो., सीआरडीटी, आईआईटी दिल्ली), डॉ अनिमेष देसाईं (डायरेक्टर, इभास अस्पताल), डॉ बृजेश झा आदि ने भी अपने विचार रखें।

Share This